Lesson -12

 मृत्तिका  

1. निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर एक या दो वाक्य का में लिख दो:

(क) रौंदे और जोते जाने पर भी मिट्टी किस रूप में बदल जाती है?

उत्तर:

(ख) मिट्टी के ‘मातृरूपा’ होने का क्या आशय है?

उत्तर: 

(ग) जब मनुष्य उद्यमशीन रहकर अपने अहंकार को पराजित करता है तो मिट्टी उसके लिए क्या बन जाती है?

उत्तर: 

2. निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर लिखो:

(क) ‘मृत्तिका’ कविता में पुरुषार्थी मनुष्य के हाथों आकर पाती मिट्टी के किन-किन स्वरूपों का उल्लेख किया गया है?

उत्तर: 

(ख) मिट्टी के किस रूप को ‘प्रिय रूप’ माना है? क्यों?

उत्तर: 

(ग) मिट्टी प्रजारूपा कैसे हो जाती है?

उत्तर:

(घ) पुरुषार्थ को सबसे बड़ा देवत्व क्यों कहा गया है?

उत्तर:

(ङ) मिट्टी और मनुष्य में तुम किस भूमिका को अधिक महत्वपूर्ण मानते हो और क्यों?

उत्तर: 

3. सप्रसंग व्याख्या करो:

(क) पर जब भी तुम

अपने पुरुषार्थ-पराजित स्वत्व से मुझे पुकारते हो

तब मैं-

अपने ग्राम्य देवत्व के साथ चिन्मयी शक्ति हो जाती हूंँ।

उत्तर:

(ख) यह सबसे बड़ा देवत्व है, कि

      तुम पुरुषार्थ करते मनुष्य हो

      और मैं स्वरूप पाती मृत्तिका।

उत्तरः

Lesson- 11

कायर मत बन

1. ‘सही’ या ‘गलत’ रूप में उत्तर दो:

(क) कवि नरेंद्र शर्मा व्यक्तिवादी गीतिकवि के रूप में प्रसिद्ध है?

उत्तर: सही।

(ख) नरेंद्र शर्मा की कविताओं में भक्ति एवं वैराग्य के स्वर प्रमुख है?

उत्तर: गलत।

(ग) पंडित नरेंद्र शर्मा की गीत-प्रतिभा के दर्शन छोटी अवस्था में ही होने लगे थे?

उत्तर: सही।

(घ) ‘कायर मत बन’ शीर्षक कविता में कवि ने प्रतिहिंसा से दूर रहने का उपदेश दिया है?

उत्तर: गलत।

(ङ) कवि ने माना है कि प्रतिहिंसा व्यक्ति की कमजोरी को दर्शाती है?

उत्तर: सही।

2. पूर्ण वाक्य में उत्तर दो:

(क) कवि नरेंद्र शर्मा का जन्म कहांँ हुआ था?

उत्तर: 

(ख) कवि नरेंद्र शर्मा आकाशवाणी के किस कार्यक्रम के संचालक नियुक्त हुए थे?

उत्तर: 

(ग) ‘द्रौपदी’ खंड काव्य के रचयिता कौन है?

उत्तर: 

(घ) कवि ने किसे ठोकर मारने की बात कही है?

उत्तर: 

(ङ) मानवता ने मनुष्य को किस प्रकार सींचा है?

उत्तर: 

(च) व्यक्ति को किसके समक्ष आत्म-समर्पण नहीं करना चाहिए?

उत्तर: 

3. अति संक्षिप्त उत्तर दो:

(क) कवि नरेंद्र शर्मा के गीतों एवं कविताओं की विषयगत विविधता पर प्रकाश डालिए।

उत्तर:

(ख) नरेंद्र शर्मा जी की काव्य-भाषा पर टिप्पणी प्रस्तुत करो।

उत्तर: 

(ग) कवि ने कैसे जीवन को जीवन नहीं माना है?

उत्तर: 

(घ) कवि ने कायरता को प्रतिहिंसा से अधिक अपवित्र क्यों कहा है?

उत्तर: 

(ङ) कवि की दृष्टि में जीवन के सत्य का सही माप क्या है?

उत्तर: 

4. संक्षेप में उत्तर दो:

(क) ‘कायर मत बन’ शीर्षक कविता का संदेश क्या है?

उत्तर: 

(ख) ‘कुछ न करेगा? क्या करेगा-रे-मनुष्य-बस कातर क्रंदन’- का आशय स्पष्ट करो।

उत्तर: 

(ग) ‘या तो जीत प्रीति के बल पर, या तेरा पथ चूमे तस्कर’ का तात्पर्य बताओ।

उत्तर: 

(घ) कवि ने प्रतिहिंसा को व्यक्ति की दुर्बलता क्यों कहा है?

उत्तर: 

5. सम्यक उत्तर दो:

(क) सज्जन और दुर्जन के प्रति मनुष्य के व्यवहार कैसे होने चाहिए? पठित ‘कायर मत बनो’ कविता के आधार पर उत्तर दो।

उत्तर: 

(ख) ‘कायर मत बन’ कविता का सारांश लिखो।

उत्तरः

6. प्रसंग सहित व्याख्या करो:

(क)”ले-देख कर जीना……. युद्ध तक खून-पसीना।”

उत्तर:

(ख)”युद्ध देहि’ कहे जब…… तेरा पथ चूमे तस्कर।”

उत्तरः

Lesson-10

कलम और तलवार

1. पूर्ण वाक्य में उत्तर दो:

(क) कलम किसका प्रतीक है?

उत्तर: कलम ज्ञानशक्ति का प्रतीक है।

(ख) तलवार किसका प्रतीक है?

उत्तर: तलवार दैहिक शक्ति का प्रतीक है।

(ग) संसार में कलम और तलवार में से किसकी शक्ति असीम है?

उत्तर: संसार में कलम और तलवार में से कलम की शक्ति असीम है।

(घ) मीठे गान की सृष्टि किसके द्वारा होती है?

उत्तर: मीठे गान की सृष्टि कलम के द्वारा होती है।

(ङ) युद्ध किस के बल पर जीता जा सकता है?

उत्तर: युद्ध तलवार के बल पर जीता जा सकता है।

(च) किसमें विचारों की शक्ति होती है?

उत्तर: कलम में विचारों की शक्ति होती है।

2. अति संक्षिप्त उत्तर दो:

(क) कलम हमारे किस काम आती है?

उत्तर:

(ख) तलवार की क्या उपयोगिता है?

उत्तर:

(ग) ‘अंध कक्षा में बैठ रचोगे ऊंँचे मीठे गान’- का आशय स्पष्ट कीजिए।

उत्तर:

(घ) कलम विचारों के अंगारे कैसे पैदा करती है?

उत्तर: 

(ङ) अक्षर चिनगारी कैसे बनते हैं?

उत्तर: 

3. संक्षेप में उत्तर दो:

(क) हाथों में शस्त्रास्त्र न होने पर भी कलम के द्वारा समाज में फैले भ्रष्टाचार-अनाचार को कैसे दूर किया जा सकता है?

उत्तर: 

(ख) कलम और तलवार में से तुम क्या लेना पसंद करोगे और क्यों?

उत्तर:

(ग) इस कविता से हमें क्या प्रेरणा मिलती है?

उत्तर:

4. ‘कलम और तलवार’ कविता का सारांश लिखो।

उत्तर:

(ख) कलम और तलवार में किस की शक्ति अधिक है? तर्क सहित अपना विचार प्रस्तुत करो?

उत्तर:

5. सप्रसंग व्याख्या करो:(क) अंध कक्ष में बैठ रखोगे ऊंँचे मीठे गान?या तलवार पकड़ जीतोगे बाहर जा मैदान?
उत्तर:

(ख) लघु गर्म रखने को रखो मन में ज्वलित विचार, हिंस्र जीव से बचने को चाहिए किंतु, तलवार।

उत्तर:

(ग) जहांँ लोग पालते लहू में हलाहल की धार, क्या चिंता यदि वहांँ हाथ में हुई नहीं तलवार?

उत्तर:

Lesson-9 कविता

(जो बीत गयी)  

1. संक्षेप में उत्तर दो:

(क) अपने प्रिया तारों के टूट जाने पर क्या अंबर कभी शोक मनाता है?

उत्तर:

(ख) हमें मधुवन और मदिरालय से क्या शिक्षा मिलती है?

उत्तर:

(ग) कवि ने ‘अंबर के आनन’ को देखने की बात क्यों की है?़

उत्तर:

(घ) प्यालों के टूट जाने पर मदिरालय क्यों नहीं पश्चाताप करता?

उत्तर:

(ङ) मधु के घट और प्यालों से किन लोगों का लगाव होता है?

उत्तर:

(च) ‘जो मादकता के मारे हैं, वे मधु लूटा ही करते हैं।’- इससे कवि क्या कहना चाहते हैं?

उत्तर:

(छ) उक्त कविता में मानव जीवन की तुलना किन-किन चीजों से की गई है सोदाहरण उत्तर दो।

उत्तर:

(ज) इस कविता से हमें क्या शिक्षा मिलती है?

उत्तर:

2. सप्रसंग व्याख्या करो:

(क) ‘जीवन में एक सितारा था,     

……………………….       

अंबर के आनन को देखो।’

उत्तर:

(ख) ‘मृदु मिट्टी के हैं बने हुए,       

……………………..       

प्याली फूटा ही करते हैं।’

उत्तर:

TYPE *JYOTISH KAKATI